AstrologyZodiacs & Planets

अग्नि तत्व की राशियां और उनके गुण के बारे में सम्पूर्ण जानकारी।

By September 21, 2022No Comments
agni tatav ki raashiyan

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार राशि चक्र में कुल 12 राशियां होती हैं। सभी राशियों के गुण अलग-अलग होते हैं। यह राशियां किसी न किसी तत्व से मिलकर बनी होती हैं। राशियां विभिन्न तत्वों जैसे वायु, अग्नि,जल और पृथ्वी में बटी हुई है। आज हम आपको बताएँगे अग्नि तत्व और अग्नि तत्व की राशियों के बारे में। आइये जानते हैं अग्नि तत्व क्या है और अग्नि तत्व की राशियां कौन सी हैं?

अग्नि तत्व की राशियां-

इस तत्व में तीन राशियां मेष, सिंह, धनु सम्मिलित हैं। यह तीन राशियां अग्नि तत्व की राशियां कहलाती है। इन तीनों राशियों के स्वामी ग्रह अलग अलग होते हैं। फिर भी इन राशियों में समानताएं पाई जाती हैं।

अग्नि तत्व की राशियों की समानताएं-

इस तत्व की राशियों में विभिन्न प्रकार की समानताएं पाई जाती हैं। जैसे सूर्य से तेज ज्वाला की अग्नि निकलती है। उसी प्रकार इन राशियों के जातक का स्वभाव भी ज्वाला की तरह होता है। यह तीनों राशियों के लोग अपने काम के प्रति अत्यधिक क्रियाशील होते हैं।यह जो निश्चय ले लेते हैं उससे किसी भी हालत में पूरा करते हैं। मेष,सिंह,धनु राशि वाले कभी निराश नहीं होते हैं।

अग्नि तत्व की राशिया

अग्नि तत्व की राशियों के गुण-

  • इन राशियों के व्यक्ति के चेहरे पर आकर्षक तेज होता है।
  • अग्नि तत्व की राशियों का प्रमुख उद्देश्य अपने कार्यक्षेत्र की तरफ समर्पण है।
  • इन लोगों में संघर्ष करने की क्षमता होती है और यह कभी हार नहीं मानते हैं।
  • अग्नि तत्व की राशि वाले लोग हमेशा दूसरों को प्रोत्साहित करते हैं।
  • यह दूसरों की बातों में नहीं आते हैं परन्तु अपनी बातों से दूसरों को अपने प्रभाव में लेने की कोशिश करते हैं।
  • अग्नि तत्व की राशि के लोग कभी परिणाम की परवाह नहीं करते हैं।

अग्नि तत्व का मित्र और शत्रु-

इस तत्व के मित्र और शत्रु दोनों होते हैं। अग्नि तत्व का मित्र वायु यानी हवा होती है। जब अग्नि को वायु का साथ मिलता है। तब अग्नि अत्यधिक जलती है। दूसरी तरफ अग्नि का शत्रु जल होता है। अगर अग्नि तत्व जल के प्रभाव में आता है। तो अग्नि की ज्वाला को कम कर देता है।

अग्नि तत्व की राशि मेष-

  • काल पुरुष की कुंडली में मेष राशि का प्रथम स्थान होता है। साथ ही साथ मेष राशि अग्नि तत्व की पहली राशि है।
  • मेष राशि सूर्य की सबसे उच्च राशि होती है और इस राशि का स्वामी मंगल होता है।
  • इस राशि का स्वभाव अत्यधिक चंचल होता है जिसके कारण यह बड़ी मुसीबत में पड़ जाते हैं।
  • अग्नि तत्व के प्रभाव से मेष राशि के लोगों को साहस मिलता है और जीवन में कामयाबी हासिल करते हैं।

यह भी पढ़ें: राशि के अनुसार वाहन के रंग का चुनाव

अग्नि तत्व की राशि मेष

मेष राशि

अग्नि तत्व की राशि सिंह-

  • इस तत्व की दूसरी राशि सिंह है और इसका स्वामी सूर्य होता है।
  • ब्रह्माण्ड में सूर्य ग्रहों का राजा कहलाता है तभी इस राशि के लोग राजा की तरह अपना जीवन व्यतीत करते हैं।
  • सूर्य इस राशि का स्वामी होने के कारण इनके चेहरे पर अलग तरह का तेज देखने को मिलता है।
  • सिंह राशि के लोग अगर राजनीति के क्षेत्र में सबसे अच्छा प्रदर्शन करते हैं।
अग्नि तत्व की राशि सिंह

सिंह राशि

अग्नि तत्व की राशि धनु-

  • इस तत्व की तीसरी राशि धनु होती है और इस राशि का स्वामी बृहस्पति है।
  • धनु राशि का स्वामी गुरु होने के कारण इस राशि के लोगों के अंदर ज्ञान और साहस पाया जाता है।
  • इस राशि के लोग सेना और अध्यापन आदि क्षेत्रों में अपना करियर बनाते हैं।
  • धनु राशि के लोगों की सबसे बड़ी कमजोरी अपनी बोली पर नियंत्रण ना करना होती है।
  • इसलिए यह लोग कभी- कभी अपनी बातों के कारण बड़ी मुसीबत में पड़ जाते हैं।
  • धनु राशि के लोगों को अपने जीवन में सफलता पाने के लिए सूर्य देव की उपासना करें।
  • आप इंस्टाएस्ट्रो के ज्योतिषी से भी उपाय के बारे में ज्ञान प्राप्त कर सकते हैं।
agni tatav ki rashi धनु

धनु राशि

यह भी पढ़ें: विवाह के बंधन से दूर भागते हैं इन राशियों के लोग।

इस प्रकार की अधिक जानकारी के लिए इंस्टाएस्ट्रो के साथ जुड़े रहे और हमारे लेख जरूर पढ़ें।

Jaya Verma

About Jaya Verma