विशाखा नक्षत्र की पूरी जानकारी

‘उद्देश्य का सितारा’ के रूप में जाना जाने वाला विशाखा नक्षत्र चंद्रमा का 16वां चंद्र नक्षत्र है। इसे भगवान कृष्ण की प्रेमिका ‘राधा’ के नाम से भी जाना जाता है। इस नक्षत्र के देवता ‘इंद्राग्नि’ हैं, जो शक्तिशाली देवताओं ‘इंद्र देव’ और ‘अग्नि देव’ का संयोजन यानी कॉम्बिनेशन है।

इस नक्षत्र का स्वामी ग्रह बृहस्पति, अग्नि देवता (इंद्राग्नि) का दूत है और मानव जाति को सबक सिखाता है। यह इस नक्षत्र में आस्था और जुनून भी जोड़ता है। वे सबसे तेज़ लोगों में से एक होने के साथ-साथ धर्म और अहिंसा में विश्वास करते हैं। हिंदी ममें विशाखा नक्षत्र (Vishakha nakshatra in hindi)का तमिल अनुवाद विशाखाम नटचथिरम है।

2024 में विशाखा नक्षत्र के लिए आवश्यक तिथियाँ

विशाखा नक्षत्र के जातकों के लिए 2024 की कुछ महत्वपूर्ण तिथियाँ इस प्रकार हैं।

तारीखसमय शुरूअंत समय
शनिवार, 6 जनवरी 202409:26 रात, 06 जनवरी10:05 रात, 07 जनवरी
शनिवार, 3 फरवरी 202405:59 सुबह, 03 फरवरी07:19 सुबह, 04 फरवरी
शुक्रवार, 1 मार्च 202412:51 दोपहर, 01 मार्च02:40 दोपहर, 02 मार्च
गुरुवार, 28 मार्च 202406:38 शाम , 28 मार्च08:36 रात, 29 मार्च
गुरुवार, 25 अप्रैल 202412:41 रात, 25 अप्रैल02:24 रात, 26 अप्रैल
बुधवार, 22 मई 202407:47 सुबह, 22 मई09:15 सुबह , 23 मई
मंगलवार, 18 जून 202403:56 शाम, 18 जून05:23 शाम, 19 जून
मंगलवार, 16 जुलाई 202412:30 रात, 16 जुलाई02:14 रात, 17 जुलाई
सोमवार, 12 अगस्त 202408:33 सुबह, 12 अगस्त10:44 सुबह, 13 अगस्त
रविवार, 8 सितंबर 202403:31 शाम, 08 सितम्बर06:04 शाम, 09 सितंबर
शनिवार, 5 अक्टूबर 202409:33 रात, 05 अक्टूबर12:11 रात, 07 अक्टूबर
शनिवार, 2 नवंबर 202403:31 सुबह, 02 नवंबर05:58 सुबह, 03 नवंबर
शुक्रवार, 29 नवंबर 202410:18 सुबह, 29 नवंबर12:35 दोपहर , 30 नवंबर
गुरुवार, 26 दिसंबर 202406:09 शाम, 26 दिसंबर08:28 रात, 27 दिसंबर

सटीक भविष्यवाणी के लिए कॉल या चैट के माध्यम से ज्योतिषी से जुड़ें

विशाखा नक्षत्र की आवश्यक विशेषताएँ

हिंदी में विशाखा नक्षत्र (Vishakha nakshatra in hindi)के कुछ महत्वपूर्ण पहलुओं में शामिल हैं:-

पहलूविशेषताएँ
विशाखा नक्षत्र स्वामी ग्रहबृहस्पति
विशाखा नक्षत्र चिन्हविजयी तोरणद्वार, कुम्हार का पहिया
विशाखा नक्षत्र के देवता या स्वामीइंद्राग्नि (इंद्र देव और अग्नि देव का संयोजन) या देवता द्वांगस
विशाखा नक्षत्र गणराक्षस
विशाखा नक्षत्र तत्त्वअग्नि (तेजो) या अग्नि
विशाखा नक्षत्र पशु या योनिनर बाघ
विशाखा नक्षत्र पक्षीलाल पूंछ वाली गौरैया
विशाखा नक्षत्र वृक्षविकंकथा या कैथ वृक्ष
विशाखा नक्षत्र शुभ अंक6, 15, 24
विशाखा नक्षत्र भाग्यशाली रत्नपन्ना
विशाखा नक्षत्र शुभ रंगस्वर्ण
विशाखा नक्षत्र शुभ पत्रजेड
विशाखा नक्षत्र गुनातमस/सत्व/रजस
विशाखा नक्षत्र लिंगमहिला

विशाखा नक्षत्र राशि चिन्ह

आइए विशाखा नक्षत्र राशि (Vishakha Nakshatra rashi)पर नजर डालें। लोगों का जन्म विशाखा नक्षत्र में होता है जब चंद्रमा की स्थिति उनकी राशि में 20:00 और 03:20 डिग्री के बीच होती है। विशाकम नटचथिरम राशि या विशाखा नक्षत्र राशि(Vishakha Nakshatra rashi) तुला है। विशाखा नक्षत्र तुला राशि (Vishakha nakshatra tula rashi)वाले बहुत अध्ययनशील, विनम्र, ऊर्जावान और ईश्वर में दृढ़ विश्वास रखने वाले होते हैं। वे आधुनिक हैं लेकिन अपनी जड़ों को याद रखते हैं। वे अपने धर्म से जुड़े रीति-रिवाजों का सम्मान करते हैं।

विशाखा नक्षत्र पुरुष सुंदर दिखते हैं, जबकि महिलाओं की विशेषताएं सुंदर होती हैं। चूंकि विशाखा नक्षत्र कांटेदार रास्तों का प्रतिनिधित्व करता है, इसलिए तुला राशि के जातकों के अच्छे और बुरे पक्ष स्पष्ट रूप से दिखाई देते हैं। विशाखा नक्षत्र तुला राशि (Vishakha nakshatra tula rashi)के जातक नशीली दवाओं की लत, धूम्रपान और शराब की ओर आकर्षित होते हैं। वे बेहद आत्म-जागरूक हैं।

विशाखा नक्षत्र पुरुष लक्षण

यहां विशाखा नक्षत्र पुरुष जातकों की विस्तृत विशेषताएं और व्यवहार दिया गया है:

भौतिक विशेषताएं

विशाखा नक्षत्र पुरुष जातकों का चेहरा आमतौर पर गोल और शरीर फिट होता है। इनका शारीरिक स्वरूप आकर्षक होता है। शरीर की दो संरचनाएँ संभव है: एक भारी शरीर और लम्बे कद वाला और दूसरा दुबला शरीर और छोटी ऊँचाई वाला।

व्यक्तित्व एवं विशेषताएँ

विशाखा नक्षत्र की विशेषताओं में इस नक्षत्र के पुरुष जातक शामिल हैं, जो आमतौर पर सकारात्मक ऊर्जा से भरे होते हैं। वे उज्ज्वल दिमाग के भी धनी होते हैं। वे आसानी से दूसरों को अपने उद्देश्यों के लिए मना सकते हैं।

वे अपने कर्मों के प्रति सावधान रहते हैं क्योंकि उनका मानना है कि भगवान उनकी मदद तभी करेंगे जब उनके कर्म सही होंगे। उनके पास मजबूत राय है, वे बहुत प्रतिस्पर्धी है और वे ज्यादातर मौकों पर लड़ने के लिए जाने जाते हैं। वे भावुक प्रेमी होते हैं लेकिन उनमें कमिटमेंट संबंधी समस्याएं होती हैं।

करियर

विशाखा नक्षत्र के पुरुष जातकों में अच्छे बातचीत करने का गुण हैं और वे सार्वजनिक वक्ता, राजनेता, वकील और अभिनेता हो सकते हैं। इनमें नेतृत्व के गुण होते हैं और ये व्यवसायी और प्रशासनिक अधिकारी भी हो सकते हैं। वे गणना और सार्वजनिक व्यवहार में अच्छे हैं, जो उन्हें अन्य व्यवसायों, अर्थात् बैंकरों और शिक्षकों के लिए खोलता है।

संपत्ति

आइए विशाखा नक्षत्र की संपत्ति पर नजर डालें। उनका पेशेवर जीवन अच्छा है और इसलिए अच्छी आय होती है। वे अपने करियर में मजबूत स्थिति में हैं और एक शानदार जीवन जीते हैं। हालांकि, जब उनके पास पैसा होता है तो उनके हाथ खाली होते हैं और वे बिना सोचे-समझे बहुत अधिक खर्च कर देते हैं। इससे अक्सर उनके पास महत्वपूर्ण चीजों के लिए पैसे की कमी हो जाती है।

लेकिन एक निश्चित उम्र के बाद, शायद 30 की उम्र में, वे अंततः पैसा बचाना सीख जाते हैं। जो लोग बिजनेसमैन हैं उन्हें बचत और निवेश करना पड़ता है इसलिए उन्हें पैसों की तंगी का सामना करना पड़ता है। विशाखा नक्षत्र की संपत्ति उनके प्रियजनों के लिए भाग्यशाली होती है।

विवाह

विशाखा नक्षत्र में पुरुषों का वैवाहिक जीवन सुखमय रहने वाला है। इनकी पत्नियों की इनके साथ अच्छी अनुकूलता रहेगी। वे शांतिपूर्ण जीवन जीने वाले हैं। एक-दूसरे के लिए उनके प्रयास उन्हें उनके रिश्ते में लंबे समय तक रहने वाली चमक प्रदान करेंगे। विशाखा नक्षत्र वैवाहिक जीवन (Vishakha nakshatra marriage life)में वे दोनों कई स्थानों की यात्रा करेंगे और दूसरों की जीवनशैली के माध्यम से पर्सपेक्टिव प्राप्त करेंगे।

अनुकूलता

विशाखा नक्षत्र के पुरुषों की अपने जीवन साथी के साथ अनुकूलता बहुत अच्छी होती है। हालाँकि, बचपन में कुछ परिस्थितियों के कारण उन्हें उथल-पुथल का सामना करना पड़ा, उनका अपनी माताओं के साथ अच्छा रिश्ता नहीं है। उन्हें अपने पिता से सही तरह का ध्यान नहीं मिला और वे ज्यादातर बहस करते रहे और अपने शब्दों के माध्यम से एक-दूसरे को चोट पहुंचाते रहे। प्रेम और विवाह के बीच अनुकूलता के बारे में, वे चित्रा नक्षत्र के लिए सबसे उपयुक्त है। वे दोनों एक-दूसरे से पूरी शिद्दत से प्यार करेंगे।

स्वास्थ्य

इस नक्षत्र के पुरुष जातकों को अपना अच्छा ख्याल रखना होगा क्योंकि उन्हें सांस लेने में समस्या और अस्थमा होने की संभावना है। इसलिए, 35 वर्ष की आयु तक, उन्हें परिवार के आसपास रहना होगा और कार्यालय जाने के लिए ड्राइवर रखना होगा।

विशाखा नक्षत्र स्त्री लक्षण

यहां विशाखा नक्षत्र की महिला जातकों की विस्तृत विशेषताएं और व्यवहार दिया गया है:

भौतिक विशेषताएं

इस नक्षत्र की महिला सुंदर विशेषताओं वाली और भव्य होती हैं। इस कारण से, उन्हें अक्सर बिना इच्छा अनुसार पुरुष ध्यान का सामना करना पड़ता है, जो उन्हें असुरक्षित लगता है। उनके पास गोल चेहरा और मध्यम ऊंचाई के साथ फिट शरीर है।

व्यक्तित्व एवं विशेषताएँ

इस नक्षत्र की महिला जातक बहुत मृदुभाषी और मधुर स्वर वाली होती हैं। वे अपनी आवाज़ के कारण पुरुषों का ध्यान आकर्षित करती हैं। वे अपने व्यक्तिगत और व्यावसायिक जीवन के बीच अच्छा संतुलन बनाकर चलते हैं।

जब आप उनसे मिलने जाते हैं तो वे आपको घर जैसा महसूस कराते हैं और कार्यालय में भी प्रभावी ढंग से काम करते हैं। उनके पति उनसे प्यार करते हैं क्योंकि वे उनकी निजी और व्यावसायिक जिंदगी को समान महत्व देते हैं। वह कोई मेकअप नहीं करतीं क्योंकि वे इसे सरल रखना पसंद करती हैं और प्राकृतिक रूप से सुंदर हैं। उनकी महिला सहकर्मी अक्सर उनकी सुंदर त्वचा से ईर्ष्या करती हैं। वे अक्सर मंदिरों में जाते हैं क्योंकि वे बहुत धार्मिक है।

करियर

इस नक्षत्र की महिला जातक अपना कार्य कुशलतापूर्वक करती हैं। वे बहुत सहजता से घर और काम संभालते हैं। विशाखा नक्षत्र की महिला जातकों का रुझान आमतौर पर कला की ओर होता है और इसलिए विशाखा नक्षत्र करियर के अनुसार वे कविता, फैशन, मीडिया, यात्रा गाइड और सार्वजनिक प्रभावशाली क्षेत्रों में अपना करियर बना सकती हैं।

परिवार और जीवनसाथी के सहयोग से वे आगे बढ़ेंगे और परिवार के लिए अतिरिक्त समृद्धि और सम्मान जुटाएंगे। इस नक्षत्र की महिला जातकों के लिए सबसे अच्छा विशाखा नक्षत्र करियर एक कवि या लेखक होगा क्योंकि उनके विचारों में स्पष्टता होती है और उन्होंने अपने जीवन में जल्दी ही ज्ञान प्राप्त कर लिया होता है।

संपत्ति

आइए विशाखा नक्षत्र की संपत्ति पर नज़र डालें तो यदि महिला जातकों का परिवार और जीवन साथी उनके लिए स्तंभ के रूप में काम करते हैं, तो वे निश्चित रूप से अपने पेशेवर जीवन में उत्कृष्टता प्राप्त करेंगी और बड़े पैमाने पर धन लाएंगी। वे अपने परिवार के बारे में बहुत सोचते हैं, जिसका असर उनकी पेशेवर संपत्ति पर पड़ सकता है।

आमतौर पर ऐसा नहीं होता, क्योंकि उन्हें माता, पिता, पति और ससुराल वाले सहयोगी मिलते हैं। विशाखा नक्षत्र में शुक्र है तो नक्षत्र की सिंगल महिलाओं को सलाह दी जाती है कि वे ऐसे परिवार में शादी करें जो उनके पेशे का समर्थन करेगा। अगर ऐसा होता है तो उन्हें कभी भी धन की कमी नहीं होगी।

विवाह

विशाखा नक्षत्र वाली महिलाओं का वैवाहिक जीवन स्वास्थ्य, रिश्तों और करियर के मामले में फलदायी रहेगा। वे, अपने सहयोगियों के साथ, घर पर काम साझा करेंगे और जब भी कोई आपात स्थिति होगी तो एक-दूसरे के लिए मौजूद रहकर एक-दूसरे के पेशेवर जीवन का समर्थन करेंगे।

विशाखा नक्षत्र वैवाहिक जीवन (Vishakha nakshatra marriage life)के अनुसार महिलाएं ज्यादातर अपने पतियों को घर के कामों में मदद करने के लिए नहीं कहती हैं क्योंकि वे अपने पतियों को देवता के रूप में पूजती हैं। यदि वे अपने बच्चे को बाद में लाते हैं और पहले कुछ वर्षों तक केवल धन को बचाने पर ध्यान केंद्रित करते हैं तो उन्हें खुशी प्राप्त होगी। वे तनाव से मुक्त रहेंगे और शायद ही एक-दूसरे से बहस करेंगे या परेशान होंगे।

अनुकूलता

आइए विशाखा नक्षत्र अनुकूलता पर नजर डालें। इस नक्षत्र की महिला जातकों का हृदय परिवार को प्राथमिकता देने वाला होता है। इसलिए, वे अपने परिवार के सदस्यों के साथ अत्यधिक अनुकूल होते हैं। वे अपनी सास और ससुर के साथ घनिष्ठ संबंध होता है।

वे अपने घर के मालिक हैं और उनकी जिम्मेदारी संभालने के लिए उनके परिवार वाले उनसे प्यार करते हैं। उनके पति उनकी प्रशंसा करते हैं कि वे कैसी हैं, और उनके बीच शायद ही कोई झगड़ा या बहस होती है।

स्वास्थ्य

चूंकि इस नक्षत्र की महिलाएं हमेशा घर से ऑफिस और वापस आने की दौड़ में लगी रहती हैं, इसलिए वे अक्सर कमजोरी महसूस करती हैं। उन्हें गुर्दे की बीमारियों का भी खतरा है और उन्हें अपने लक्षणों पर ध्यान देना चाहिए। इसके अलावा, वे आमतौर पर अच्छे स्वास्थ्य में होते हैं।

विशाखा नक्षत्र पद

प्रत्येक नक्षत्र को 4 पदों में विभाजित किया गया है ताकि किसी व्यक्ति के जीवन का बेहतर विश्लेषण और भविष्यवाणियाँ की जा सके। निम्नलिखित विशाखा नक्षत्र के चार चरणों की चर्चा करता है।

विशाखा नक्षत्र पद 1

इस पद में जन्मे लोग अपनी जीवन शैली, कड़ी मेहनत और नेतृत्व कौशल से दूसरों को प्रेरित करते हैं। वे मेष नवांश के अंतर्गत आते हैं और बहुत रोमांटिक होते हैं। मंगल ग्रह के शासन में ये अपनी सामाजिक इच्छाओं पर ध्यान देते हैं और अपने प्यार के लिए कुछ भी कर सकते हैं।

विशाखा नक्षत्र पद 2

इस पद में जन्मे लोग बहुत रचनात्मक होते हैं। वे दीर्घायु होने में विश्वास करते हैं और वे कोई भी दर्द सहन कर सकते हैं। वे वृषभ नवांश के अंतर्गत आते हैं और उनका करियर सफल होता है। शुक्र ग्रह के शासन में इनका दिमाग तेज होता है और उतार-चढ़ाव का सामना करते हुए भी ये विजय प्राप्त करते हैं।

विशाखा नक्षत्र पद 3

इस पद में जन्मे लोगों में उत्कृष्ट संचार कौशल, महान सीखने की क्षमता और किताबों का शौक होता है। वे मिथुन नवांश के अंतर्गत आते हैं और उनकी निगाहें अपने लक्ष्य पर केंद्रित होती हैं। इस पद के अंतर्गत विशाखा नक्षत्र में स्वामी ग्रह बुध सफलता और प्रसिद्धि के द्वार पर दस्तक दे रहा है।

विशाखा नक्षत्र पद 4

इस पद में जन्मे लोग संवेदनशील होते हैं और आसानी से रो सकते हैं। ये भावनाओं को बहुत अधिक महत्व देते हैं। वे कर्क नवांश के अंतर्गत आते हैं और अपने प्रियजनों को बहुत समय देते हैं। चंद्रमा के शासन में, क्योंकि वे अपने लोगों से बेहद प्यार करते हैं, इसका उन पर भारी असर पड़ सकता है क्योंकि वे ईर्ष्या और बुरी भावनाओं को संभालने में सक्षम नहीं होंगे।

विशाखा नक्षत्र में विभिन्न ग्रह

आइए एक नजर डालते हैं कि विशाखा नक्षत्र में स्थित होने पर विभिन्न ग्रह क्या प्रभाव डालते हैं। ये इस प्रकार हैं:

  • विशाखा नक्षत्र में शुक्र व्यक्ति को ज्ञानवान बनाता है। इसके अलावा, व्यक्तियों को पढ़ने और लिखने में गहरी रुचि होती है।
  • विशाखा नक्षत्र में बृहस्पति व्यक्ति को उसी विषय में गहरी रुचि रखने के साथ-साथ अत्यधिक आध्यात्मिक स्वभाव का बनाता है।
  • विशाखा नक्षत्र में राहु व्यक्ति को जीवन से बहुत असंतुष्ट बनाता है। इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि व्यक्ति क्या करता है या क्या हासिल करता है, उसे हमेशा महसूस होगा कि कुछ कमी है।
  • विशाखा नक्षत्र में मंगल व्यक्ति को भौतिकवादी बनाता है। कोई भी चीज व्यक्ति को भौतिक सुख से अधिक संतुष्टि प्रदान नहीं करती है।
  • विशाखा नक्षत्र में सूर्य जातकों को अपने साथियों और साथी के साथ अच्छे संबंध बनाने के लिए जाना जाता है। इसके साथ ही जातक वैवाहिक सुख का आनंद लेंगे और उन्हें एक आकर्षक जीवनसाथी का आशीर्वाद मिलेगा।
  • विशाखा नक्षत्र में चंद्रमा व्यक्ति को उसके रूप के मामले में बहुत आकर्षक बनाता है।
  • विशाखा नक्षत्र में बुध जातक को अच्छी बातचीत करने वाला बनाता है। जातकों में आमतौर पर अच्छे संचार की स्किल और क्षमताएं होती हैं।
  • विशाखा नक्षत्र में शनि जातकों को काफी निर्णायक व्यक्ति बनाता है। इसके अलावा, उनकी अच्छी निर्णय लेने की क्षमता उन्हें भविष्य में किसी भी बुरी घटना से बचने में मदद करेगी।
  • विशाखा नक्षत्र में केतु व्यक्ति को आध्यात्मिक रूप से उन्मुख बनाता है।

विशाखा नक्षत्र में जन्मे लोगों की ताकत और कमजोरियां

विशाखा नक्षत्र एक शक्तिशाली नक्षत्र है। हालांकि, यह फायदे और नुकसान के साथ आता है। यह एक कांटेदार शाखा या दो सड़कों को एक आत्मा में विलीन होने का प्रतिनिधित्व करता है। आइए इसकी ताकत और कमजोरियों पर नजर डालें।

ताकत

इस नक्षत्र के लोग शक्तिशाली व्यक्ति होते हैं। इंद्राग्नि देवता उन्हें तेज दिमाग और निर्भयता प्रदान करते हैं। उनका मानना है कि ईश्वर अस्तित्व में है और उनकी देखभाल कर रहा है। ईश्वर में यह दृढ़ विश्वास उन्हें आगे बढ़ाता रहता है। विशाखा नक्षत्र में बुध उनकी रचनात्मक मानसिकता, कलात्मक दृष्टिकोण और अच्छे बातचीत करने की स्किल में भी योगदान देता है।

वे अच्छे पाठक हैं और पुस्तकों, लेखों, उद्धरणों और ज्ञान के अन्य माध्यमों पर अनुशंसाएँ प्राप्त करना पसंद करेंगे। स्वामी ग्रह बृहस्पति, विशाखा नक्षत्र में केतु को बुद्धिमान होने का गुण देता है और उसे आध्यात्मिकता के मार्ग पर चलने के लिए प्रेरित करता है।

इस नक्षत्र के लोगों में केतु ने उन्हें जीवन की सच्चाई का एहसास कराया है क्योंकि वे अपने पिछले जन्म में पहले ही मोक्ष प्राप्त कर चुके हैं। जीवन की सच्चाई, यौन मुद्दे और सांसारिक सुख या विलासिता को इस नक्षत्र द्वारा अच्छी तरह से समझा जाता है और वे इससे ऊपर हैं।

इसके अलावा, विशाखा नक्षत्र में सूर्य, सर्वोच्च शक्ति, की भी महत्वपूर्ण भूमिका होती है क्योंकि यह उन्हें अच्छे रिश्ते बनाए रखने, खुद से प्यार करने, महत्वाकांक्षी होने और शोध कार्यों में हाथ बंटाने के लिए प्रेरित करता है।

कमजोरियां

जब विशाखा नक्षत्र में राहु सबसे शक्तिशाली और अपनी ऊर्जा के शीर्ष पर होता है, तो यह इस नक्षत्र की कमजोरियों को सामने लाता है। जो लोग इस नक्षत्र में बच्चे को जन्म देते हैं वे उन चीज़ों के प्रति अत्यधिक संवेदनशील होते हैं जो उनके लिए महत्वपूर्ण होती हैं, विशेषकर उनके प्रियजनों के प्रति।

इसलिए, जब उनका ध्यान साझा किया जाता है, या उनके प्यार की पर्याप्त सराहना नहीं की जाती है, तो इससे उनका दिल टूट जाता है। वे इतने भावुक होते हैं कि उनके लिए किसी भी प्रकार की ईर्ष्या, दुर्व्यवहार, घृणा, दिल टूटना या गुस्से को संभालना लगभग असंभव होता है।

इसके साथ-साथ, वे दूसरों के कार्यों की बहुत आलोचना करते हैं और इतनी अधिक बातें करते हैं कि इससे आपको चिढ़ हो सकती है। वे बहस जीतने के लिए कुछ भी करेंगे, भले ही उन्हें पता हो कि वे गलत थे। वे कभी-कभी लालची और अहंकारी होते हैं।

विशाखा नक्षत्र प्रसिद्ध व्यक्तित्व

नीचे विशाखा नक्षत्र में जन्मी कुछ प्रसिद्ध हस्तियों का उल्लेख किया गया है। आइए उन पर एक नजर डालें:

  1. अक्षय कुमार
  2. मार्क जुकरबर्ग
  3. प्रियंका गांधी
  4. स्कारलेट जोहानसन
  5. बेयोंस कनौलेस

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल-

विशाखा नक्षत्र देवी सीता देवी का जन्म नक्षत्र है, जो भगवान राम की पत्नी माता सीता है।
विशाखा नक्षत्र राशि, या राशि चक्र, तुला है। तुला राशि का जन्म तब होता है जब चंद्रमा की स्थिति 20:00 से 03:20 के बीच होती है।
विशाखा नक्षत्र व्यक्ति के लिए अच्छा होता है और इस नक्षत्र में जन्म लेने वाले लोग चतुर, मधुर, धार्मिक और उच्च नैतिक मानकों वाले होते हैं।
विशाखा नक्षत्र का भाग्यशाली रत्न पन्ना या माणिक्य है। यह जीवन के हर पहलू, विशेषकर शिक्षा और करियर में मदद करता है।
विशाखा नक्षत्र के जातकों में परेशान रहने पर अलग रहने की आदत होती है।
विशाखा नक्षत्र चित्रा नक्षत्र के साथ अत्यधिक अनुकूल है और वे उनके लिए सबसे उपयुक्त हैं।
Karishma tanna image
close button

Karishma Tanna believes in InstaAstro

Urmila  image
close button

Urmila Matondkar Trusts InstaAstro